यूजर्स की स्मार्टफ़ोन्स पर निर्भरता के चलते इनमें उनका बड़ी मात्रा में निजी डेटा सेव होता रहता है. खास बात यह है कि इनमे उनका कुछ डेटा बहुत महत्वपूर्ण भी होता है. ऐसे में फ़ोन के खो जाने, चोरी होने या टूट जाने पर यह डेटा बड़े रिस्क में डाल सकता है. इसी परेशानी से बचने का सबसे आसान तरीका है अपने फ़ोन में मौजूद बिल्ट-इन बैकअप सर्विस को सिर्फ ऑन करना होता है.




 एंड्राइड फोन्स

जिस तरह से एप्पल में बैकअप के लिए आईक्लाउड की सुविधा होती है, ठीक उसी तरह एंड्राइड में भी इन-बिल्ट बैकअप सर्विस होती है जो आपके डिवाइस की सेटिंग्स, वाई-फाई नेटवर्क्स और गूगल ड्राइव में एप डेटा को ऑटोमैटिकली बैकअप कर देता है. यह सर्विस फ्री है और यूजर के गूगल ड्राइव अकाउंट में स्टोरेज का कोई हिसाब-किताब नहीं रखती. एंड्राइड डिवाइस को सेटअप करने के बाद गूगल की बैकअप सर्विस को बाय डिफोल्ट भी ऑन करें और इसे चेक भी जरुर करते रहे.

बैकअप एप्स, डेटा व सेटिंग्स

अपनी बैक अप सेटिंग्स देखने के लिए एंड्राइड डिवाइस पर सेटिंग्स एप्प को ओपन करके सिस्टम बैक अप पर टैप करने से आपको बैक अप टू गूगल ड्राइव लिखा स्विच दिखेगा. वह ऑफ है तो उसे ऑन कर दें. अगर आपने अपने फोन में एक से ज्यादा गूगल अकाउंट पर साइन इन किया है तो आप अकाउंट आप्शन पर टैप करके यह सलेक्ट कर सकते है की कौनसे गूगल अकाउंट में आप अपने बैक अप को स्टोर करना चाहते है. एक बार बैक अप को टर्न ऑन करने के बाद आपका फोन अपने आप ही कांटेक्ट, फोटो, विडियो व सेटिंग्स, पासवर्ड्स, जीमेल सेटिंग्स, एप्स आदि का बैक अप लेना शुरू कर देगा.

फोटोज व विडियोज

आपको पता होना चाहिए कि गूगल फोटोज आपको फोटोज व विडियोज का असीमित बैक अप देता है और दूसरी बात यह भी है कि यह सुविधा आपको तब तक मिलती रहती है जब तक गूगल के उन्हें हाई-क्वालिटी में बदलने तक आप उसका नियमित और सही उपयोग करते रहेंगे. इसका मतलब है की गूगल फोटोज साइज को 16 मेगापिक्सल और विडोज को 1080 पी पर कैप कर देता है. इस सुविधा को अपनाने के लिए आप सबसे पहले अपने फोन में गूगल फोटोज एप को इंस्टोल करें, बैक अप को टर्न ऑन पर करें और वह क्वालिटी चुनें जिसे आप इस्तेमाल करना चाहते है.


यह जानकारी आपको कैसी लगी आप हमें कमेंट बॉक्स में जरुर बताएं और यह पोस्ट पसंद आई हो तो कृपया पोस्ट को लाइक और शेयर जरुर करें