एक व्यक्ति एक रेस्तरां में गया. वहाँ काफी भीड़-भाड़ थी.
तभी उसने देखा कि एक लड़की अकेली बैठी थी. उसके साथ वाली कुर्सी खाली थी.

व्यक्ति ने उससे पूछा – “मेम, क्या मैं यहाँ बैठ सकता हूँ ?”
वह लड़की जोर से चिल्लाई – “नहीं मैं तुम्हारे साथ रात नहीं गुजार सकती !

वहाँ मौजूद सभी लोग उस व्यक्ति को घूर-घूर कर देखने लगे.  वह व्यक्ति शर्म से पानी-पानी हो गया.

जब वह वापस लौटने लगा तो उस लड़की ने उसका हाथ पकड़ा और धीरे से बोली – “सॉरी ! दरअसल मैं Human Behaviour पर Research कर रही हूँ और देखना चाहती थी कि इंसान शर्मिन्दा होने के बाद कैसा महसूस करता है !
वह व्यक्ति फ़ौरन दो कदम पीछे हटा और जोर से चिल्लाया – “क्या ??? … सिर्फ एक रात के दस हजार रुपये ? कुछ तो कम कर यार !!!
लड़की हक्की-बक्की रह गई. सभी लोग उसकी ओर देख कर हँसने लगे.
उस व्यक्ति ने धीरे से उससे कहा – “अब महसूस करो मैडम दिल खोलकर महसूस करो कि इंसान शर्मिंदा होने के बाद कैसा महसूस करता है !!!